Ravi Tiwari, BJP Delhi: सुप्रीम कोर्ट ने धारा 370 पर मोदी सरकार एवं देशवासियों के हित में फैसला सुनाया

बीजेपी के युवा एवं उभरते हुए नेता रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने धारा 370 पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर बैठक की। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के द्वारा धारा 370 हटाए रखने के पक्ष में फैसला सुनाने के लिए तारीफ की। रवि तिवारी ने कहा कि 2019 में प्रचंड बहुत से मोदी सरकार ने सत्ता में वापसी की। सरकार गठन के तुरंत बाद ही जम्मू-कश्मीर से धारा 370 समाप्त कर दी गई। इस फैसले के बाद से एक #nayajammukashmir की नींव पड़ चुकी है।

 

Youth leader of the BJP in Delhi, Ravi Tiwari: तब से लेकर अब तक बहुत से बुद्धिजीवियों के पेट में मरोड़ उठ रही थी। जम्मू-कश्मीर में धारा 370 की वापसी के लिए बड़ी संख्या में सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका डाली गयी थी। जिसे सुप्रीम कोर्ट ने निरस्त कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए धारा 370 का समापन एक महत्वपूर्ण कदम था।

 

माननीय सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद जम्मू-कश्मीर राज्य के सर्वांगीण एवं चहुंमुखी विकास का रास्ता साफ हो चुका है। मोदी सरकार के सत्ता में दुबारा वापसी करने के बाद से ही जम्मू एवं कश्मीर ने विकास की नई बुलंदियों को छुआ है। परन्तु कुछ बुद्धिजीवियों के द्वारा धारा 370 के हटाए जाने के खिलाफ याचिका दायर कर दी गयी थी। जिसे माननीय सुप्रीम कोर्ट ने रद्द कर दिया है।

 

अब एक नए जम्मू-कश्मीर का सपना प्रत्येक भारतवासी देख  सकता है। कांग्रेस शासन में विगत कुछ वर्षो में हमने यह पाया था कि जिस कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता था। वहाँ पर सिर्फ आतंकवाद, पत्थरबाजी, महंगाई और बेरोजगारी का बोलबाला था। कश्मीर मुद्दे पर कांग्रेस सरकार की नाकामी जगजाहिर है। परन्तु मोदी सरकार में कश्मीर को वह सम्मान और विकास का पथ मिला जिसके कश्मीरी हकदार थे।

 

धारा 370 के समापन के पश्चात् जम्मू एवं कश्मीर में काफी आमूलचूल परिवर्तन आया है। यह एक तथ्य है। कश्मीर घूमने वाले पर्यटक और कश्मीरी स्वयं यह बात स्वीकार करते हैं। वहाँ पर बुनियादी ढांचे में सुधार प्रक्रिया अपने चरम स्तर पर है। इंफ्रास्ट्रक्चर हो शिक्षा, स्वास्थ्य हर क्षेत्र में जम्मू-कश्मीर में आपको कार्य होता हुआ दिखता है। भविष्य में कश्मीर पर्यटन के क्षेत्र में दुनिया भर के पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र होगा। इसी तर्ज पर जम्मू-कश्मीर का विकास किया जा रहा है।

 

नरेंद्र मोदी के 2014 से देश की सत्ता सँभालने के पश्चात् जम्मू-कश्मीर की दिशा एवं दशा दोनों में ही परिवर्तन आया है। कश्मीर की पहचान अब बदल चुकी है। 2021 में 30 वर्षों के पश्चात् कश्मीर में सिनेमाहॉल का दोबारा खुलना यह इंगित करता है कि कश्मीर में भी भारत के अन्य राज्यों की भांति स्थिति सामान्य एवं सहज है। जम्मू-कश्मीर में भी विकास की भरपूर संभावना है। जम्मू-कश्मीर में 100 से अधिक फिल्मों की शूटिंग का कार्य चल रहा है। श्रीनगर में एक मल्टीप्लेक्स का भी निर्माण किया गया है। 4 अन्य नए थिएटर का भी उद्घाटन हुआ है।