मोदी जी द्वारा हार के बाद खिलाड़ियों का उत्साहवर्द्धन प्रशंसनीय: रवि तिवारी

Ravi Tiwari BJP: क्रिकेट विश्व कप 2023 के फाइनल में भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया के हाथो एक दर्दभरी शिकस्त का सामना करना पड़ा। इस हार से हर एक भारतवासी का दिल टूटा है। खिलाड़ियों का दिल टूटना तो लाजिमी सी बात है क्योंकि वही मैदान के अंदर खेल रहे थे। खिताबी जीत का सबसे अधिक इंतजार इन्ही खिलाड़ियों को था।

 

परन्तु एक बार पुनः भारतीय टीम अपने सर्वोच्च लक्ष्य को भेदने में असफल रही। ऐसी विकट परिस्थिति में घर के बड़े बुजुर्ग की भांति पीएम मोदी ड्रेसिंग रूम में भारतीय खिलाड़ियों का उत्साहवर्द्धन करते दिखाई पड़े।

 

इस हार से सबक लेकर भविष्य की चुनौतियों से निपटने का साहस दिया। पीएम नरेंद्र मोदी जी ने इस कदम से खिलाड़ियों के अंदर विश्व कप फाइनल में मिली हार से उपजी निराशा को कम करने का प्रयास किया और उम्मीद जताई कि भविष्य में वे अवश्य ही खिताबी जीत दर्ज कर भारत का गौरव बढ़ाएँगे।

 

रवि तिवारी (Ravi Tiwary) जी ने पीएम नरेंद्र मोदी जी के इस कदम की प्रशंसा की और भारतीय टीम को भविष्य की शुभकामनाएँ दी।

क्या रहा विश्व कप फाइनल का हाल

 

19 नवंबर 2023 दिन रविवार को भारत और ऑस्ट्रेलिया के मध्य क्रिकेट विश्व कप का फाइनल अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेला गया। जिसमे ऑस्ट्रेलिया की टीम ने उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन करते हुए भारत को हरा दिया। फाइनल मुकाबला उम्मीदों के विपरीत लगभग एकतरफा ही रहा।

 

अपना चौथा विश्व कप फाइनल खेल रही भारतीय टीम पूरे टूर्नामेंट में फाइनल हारने से पूर्व अजेय रही। भारतीय टीम लगातार 10 मैच जीतकर फाइनल में पहुंची थी। लेकिन फाइनल में भारतीय टीम एक बार फिर फिसल गई। ऑस्ट्रेलिया के सामने भारतीय टीम कोई खास चुनौती पेश नहीं कर पाई।

 

भारतीय टीम ने इस मैच में निराश किया चाहे वो बल्लेबाजी, गेंदबाजी या फील्डिंग कोई भी क्षेत्र रहा हो। ऑस्ट्रेलिया की टीम हर मामले में भारतीय टीम से बेहतर साबित हुई और फाइनल मुकाबला बड़ी ही आसानी से जीतकर रिकॉर्ड छठी बार विश्व कप अपने नाम किया।

कैसा घटा भारत का विश्व कप अभियान

 

यह विश्व कप भारतीय सरजमीं पर खेला गया था। अपना घरेलू मैदान होने के नाते भारतीय टीम विश्व कप की प्रबल दावेदार थी। सभी विशेषज्ञों की दृष्टि में भारतीय टीम इस ट्रॉफी की सबसे योग्य उम्मीदवार थी।

 

घरेलू दर्शकों के सामने भारतीय टीम पर विश्व कप जीतने का दबाव भी था। परन्तु भारतीय टीम ने दबाव के क्षणों में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए पूरे विश्व कप में दूसरी टीमों को नाको चने चबवा दिए। लीग चरण के 9 मुकाबले जीतकर भारतीय टीम सेमीफइनल में पहुँची।

 

वहाँ पर भी लगभग एकतरफा मुकाबले में भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड को पटखनी दी। लेकिन फाइनल मुकाबले में विश्व विजयी ऑस्ट्रेलिया की चुनौती के समक्ष भारतीय टीम ढेर हो गयी। 2013 के पश्चात् कोई भी ICC ट्रॉफी जीत पाने का सपना चकनाचूर हो गया। चाहे भारतीय टीम फाइनल न जीत पाई हो लेकिन टूर्नामेंट में सदैव ही उत्कृष्ट खेल का प्रदर्शन किया।

 

खिताबी जीत न दर्ज कर पाने का मलाल हर भारतवासी के दिल में हमेशा रहेगा। परन्तु जिस तरह से भारतीय टीम ने पूरे विश्व कप में अपने खेल से संपूर्ण जगत को अपना दीवाना बनाया उसकी हर खेलप्रेमी को तारीफ करनी चाहिए। क्योंकि इस तारीफ की भारतीय टीम हकदार है।

रवि तिवारी (Ravi Tiwary) जी का सभी मायूस खेलप्रेमियों और खिलाड़ियों के लिए सन्देश

बीजेपी नेता रवि तिवारी (Ravi Tiwary) जी ने कहा कि हम अपने देश की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के साथ हर पल खड़े हैं। चाहे जीत कर ख़ुशी मनाने का लम्हा हो चाहे हार के गम का दुर्लभ क्षण हो। हम सब सभी पलों को साथ मिलकर बाटेंगे। इस दर्दभरी हार और मायूसी के क्षण में हम अपनी टीम के खिलाड़ियों को कभी भी अकेला और हारा हुआ महसूस नहीं होने देंगे। हम गर्व के साथ इस अभियान का अंत करना चाहेंगे और इस टूर्नामेंट में मिली हार से सबक लेकर भविष्य की चुनौतियों से निपटेंगे। फिर किसी अन्य ICC के टूर्नामेंट का समापन खिताबी जीत के साथ करेंगे।

 

भारतीय टीम क्रिकेट टीम के हर खेलप्रेमी का सपना अवश्य ही पूरा होगा। वह दिन दूर नहीं जब हम अपने खिलाड़ियों के गले में खिताबी जीत का मेडल देखेंगे और अपनी पूरी टीम को ट्रॉफी के मध्य हर्षोल्लास से खुशियाँ मनाते हुए पाएँगे।