Ravi Tiwari, BJP Delhi: Delhi Politics, CM Kejriwal ने लगाए BJP पर विधायक खरीदने के आरोप

इस लेख में  BJP Delhi के नेता Ravi Tiwari ने समझाया कि Arvind Kejriwal को क्यों बार-बार क्यों यह विधायकों की खरीद-फरोख्त का जुमला उछालना पड़ता है।

Delhi Politics: आम आदमी पार्टी (Aam Adami Party) के मुखिया एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री (Delhi CM) ने भ्रष्टाचार के आरोपों का जवाब देने के बजाय एक नया शिगूफा छेड़ दिया है। बार-बार ईडी के समन दिए जाने के बावजूद भी वह सवाल-जवाब के लिए सामने नहीं आ रहे हैं। अपने ऊपर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों से ध्यान भटकाने के लिए उन्होंने एक नयी कहानी पेश की है।

रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने बताया कि आप मुखिया (AAP leader) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP Delhi) पर आरोप लगते हुए कहा कि उनकी पार्टी के 7 विधायकों को खरीदने जा रहा है। क्या आप (AAP) के विधायक इतने बिकाऊ हैं कि उन्हें कोई भी आकर खरीद सकता है। भाजपा दिल्ली (BJP Delhi), आम आदमी पार्टी के 7 विधायकों से संपर्क साधने का प्रयास कर रही है। इसके लिए 25 करोड़ तक का ऑफर दिया जा चुका है।

क्या लिखा था केजरीवाल (Arvind Kejriwal) की पोस्ट में?

रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने बताया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर एक पोस्ट साझा करते हुए यह सब लिखा है। इस पोस्ट में उन्होंने लिखा है कि अभी तक उनका दावा है कि 21 विधायकों से संपर्क साधा गया है। लेकिन हमारी जानकारी के अनुसार अभी तक 7 विधायकों से संपर्क साधा गया है और सबने मना कर दिया है।

केजरीवाल ने शराब घोटाले को भी एक सरकार गिराने का जरिया बताया और कहा कि भाजपा (BJP Delhi) की साजिश मुझे जेल भेजने की नहीं बल्कि मेरी सरकार गिराने की है। अरविन्द केजरीवाल का यह शिगूफा कोई नया नहीं है। इससे पहले भी कई बार वह दावा कर चुके हैं कि उनके विधायकों को खरीदकर भाजपा सरकार गिराना चाहती है।

लेकिन प्रश्न यहाँ पर यह है कि 21 विधायकों को खरीद कर भाजपा क्या ही कर सकती है? इस तरह के निराधार आरोप केजरीवाल लगातार लगाते रहे हैं। जब भी कभी उनके भ्रष्टाचार की पोल खुलने वाली होती है वह इसी तरह का रायता फैलाकर जनता का ध्यान भटकाने का प्रयास करते हैं। शराब घोटाले में उन्होंने जो भी घपला किया है उसकी सजा तो उनको मिलकर रहेगी। अब जनता भी केजरीवाल के नौटंकीबाज चरित्र को बहुत ही अच्छी तरह से समझ चुकी है। दिल्ली की जनता इस तरह के किसी भी बहकावे में नहीं आएगी।

केजरीवाल के पोस्ट पर जनता की क्या है राय?

रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने बताया कि केजरीवाल ने यह सब सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर लिखा है। शराब घोटाले को भी उन्होंने भाजपा (BJP Delhi) के द्वारा षणयंत्र का हिस्सा बताया दिया और कहा कि यह सब सरकार गिराने के लिए किया जा रहा है। उनके इस पोस्ट जनता की प्रतिक्रिया केजरीवाल के लिहाज से कुछ सकारात्मक नहीं रही।

रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने बताया कि इस पोस्ट पर दिल्ली की जनता ने उन्हें आइना दिखाते हुए कहा कि आप की नौटंकी अब नहीं चलेगी। एक यूजर ने कहा कि हमेशा आप के ही विधायक क्यों बिक जाते हैं? एक अन्य यूजर ने उल्टा केजरीवाल से सवाल करते हुए कहा कि आपको सुबूत के साथ यह साबित करना चाहिए। लोगों ने केजरीवाल से विधायक के नाम भी पूछे कि किन-किन विधायकों के साथ संपर्क साधने का प्रयास किया गया है। आज के समय में कॉल रिकॉर्डिंग तो बड़ी आम बात है।

रवि तिवारी (Ravi Tiwari) ने बताया कि इस तरह का कोई भी सुबूत हो तो पेश करें। यदि E-mail के माध्यम से संपर्क साधा गया तो उसका स्क्रीनशॉट शेयर कीजिये। आखिर कुछ तो सुबूत होगा तो उसको जनता के समक्ष साक्ष्य को पेश किया जाये। नहीं तो इस तरह ध्यान भटकाने का कार्य न करें। क्या केजरीवाल के विधायक स्वयं ही भाजपा के पास गए थे क्या? जिस भी माध्यम से उनके साथ संपर्क साझा करने का प्रयास किया गया हो। उसका साक्ष्य प्रस्तुत करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *